कोटेदार के खिलाफ ग्रामीणों ने प्रदर्शन कर की नारेबाजी | livehindustan

Browse By

तहसील क्षेत्र के चितारा महमूदपुर गांव के कोटेदार के खिलाफ शुक्रवार को ग्रामीणों का गुस्सा फूट पड़ा। आक्रोशित ग्रामीणों ने तहसील पर पहुंचकर एसडीएम का घेराव कर दिये और नारेबाजी करते हुए विरोध जताने लगे। ग्रामीणों ने एसडीएम को शिकायती पत्र सौंपकर कार्रवाई की मांग की तो उन्होंने आश्वासन देकर उन्हें शांत कराया।

मार्टीनगंज तहसील क्षेत्र में कोटेदारों द्वारा खाद्यान्न वितरण में खुलेआम मनमानी की जा रही है। इसकी वजह से जरूरतमंदों व गरीबों को उनका हक नहीं मिल पा रहा है। राशन माफियाओं व सप्लाई विभाग की मिलीभगत से खाद्यान्न की कालाबाजारी की जा रही है। ग्रामीणों की शिकायत के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हो रही है, जिससे ग्रामीणों का आक्रोश बढ़ रहा है। क्षेत्र के चितारामहमूदपुर गांव के कोटेदार रामबचन यादव के खिलाफ ग्रामीणों का गुस्सा शुक्रवार को भड़क गया।

आक्रोशित ग्रामीणों ने तहसील पर पहुंचकर एसडीएम मिश्रीलाल का घेराव कर दिये। ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि कोटेदार द्वारा विगत 15 माह से खाद्यान्न व मिट्टी का तेल नहीं दिया जा रहा है। प्रकाश के लिए छात्रों द्वारा सरसों के तेल का दीपक जलाकर पढ़ाई करने के लिए मजबूर हैं। ग्रामीणों ने कोटेदार के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए शिकायती पत्र सौंपा। एसडीएम ने जांच कर कोटेदार के खिलाफ सख्त कार्रवाई का आश्वासन दिया, तब जाकर ग्रामीणों का गुस्सा शांत हुआ। इस मौके पर अमलदार, सूर्यबली यादव, लालू यादव, रामचंद्र, नीलम, राधिका, पिंकी राजभर आदि मौजूद रहे।

%d bloggers like this: