भू-माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई नहीं होने से कमिश्नर खफा, लगाई फटकार

Browse By

कमिश्नर नितिन रमेश गोकर्ण ने भू-माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई न होने पर सख्त नाराजगी जताई है। उन्होंने अफसरों से दो टूक कहा है कि यदि आपके इलाके में कोई भू-माफिया नहीं है तो उसका प्रमाण पत्र दें। इस संबंध में उन्होंने मंडल के सभी जिलाधिकारियों से कहा कि भू-माफिया के कब्जे वाली सरकारी व गैर सरकारी भूमि को खाली कराएं। उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज करें साथ ही वन, कृषि, परिवहन आदि विभाग से प्रमाण पत्र लें कि उनकी कोई भूमि कब्जे में नहीं है। 

कमिश्नर मंगलवार को अनुश्रवण कक्ष में राजस्व कार्यों एवं कानून व्यवस्था की मंडलीय समीक्षा बैठक कर रहे थे। उन्होंने पिछले वर्ष की तुलना में बैकों के बकाये की वसूली वाराणसी में 3 करोड़ तो चंदौली में 1.75 करोड़ कम होने पर नाराजगी जताई। इसके लिए जिलाधिकारियों को संबंधित उप जिलाधिकारियों से जबाब-तलब करने को कहा।

वहीं, भूमि अधिनियम में गाजीपुर के जखनिया में उप जिलाधिकारी एवं सदर तहसील में अपर जिलाधिकारी के स्तर पर लम्बे समय से प्रकरण लम्बित होने के बाद भी निस्तारण नहीं करने पर जवाब-तलब करने का निर्देश दिया। उन्होंने भू-राजस्व वसूली को लेकर लापरवाही कर रहे अमीनों को चिह्नित कर उनके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई करने को कहा।

इसके अलावा वाराणसी शहर के अमीनों द्वारा लक्ष्य के सापेक्ष वसूली न करने पर उन्हें ग्रामीण क्षेत्र में स्थानान्तरित किये जाने का निर्देश दिया। विद्युत विभाग के बकाये की वसूली चंदौली, जौनपुर तथा गाजीपुर में कम होने पर अधिकारियों पर नाराजगी जाहिर की और अधीक्षण अभियंता विद्युत को 15 सितम्बर तक स्थिति से अवगत कराने को कहा। उन्होंने स्टाम्प एवं परिवहन विभाग को भी वसूली में तेजी लाने का निर्देश दिया। वहीं तहसीलों में आय, जाति एवं निवास प्रमाण पत्रों के लम्बित प्रकरण को एक सप्ताह के अन्दर शत-प्रतिशत निस्तारण किये जाने का निर्देश दिया। 

बैठक में जौनपुर जिलाधिकारी सर्वज्ञराम मिश्र, चन्दौली जिलाधिकारी हेमन्त कुमार, गाजीपुर जिलाधिरकारी के बालाजी, एसएसपी वाराणसी आरके भारद्वाज, एसपी चंदौली संतोष कुमार सिंह, अपर आयुक्त प्रशासन ओम प्रकाश चौबे सहित मंडल के विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

Source | livehindustan

%d bloggers like this: