डोप टेस्ट में फंसी स्वर्ण पदक विजेता मुजफ्फरनगर की प्रियंका पंवार, मिली ये सजा | asbtoday

Browse By

मुजफ्फरनगर। एशियाई खेल-2014 में महिला रिले में गोल्ड मेडल जीतने वाली धावक प्रियंका पंवार पर डोप टेस्ट में असफल होने के कारण 8 साल के लिए प्रतिबंध लगा दिया गया है. प्रियंका को हैदराबाद में इंटर-स्टेट एथलेटिक्स चैंपियनशिप में प्रतिबंधित पदार्थ के सेवन का दोषी पाया गया था.

यह चैंपियनशिप पिछले साल 28 जून से दो जुलाई के बीच खेली गई थी. तब से उन पर अस्थायी प्रतिबंध था. प्रियंका को रियो ओलिंपिक-2106 में चार गुणा 400 मीटर रिले में चुना गया था, लेकिन बाद में उन्हें टीम से बाहर कर दिया गया था. उनकी जगह अश्विनी अकुंजी को टीम में शामिल किया गया था.

नाम न बताने की शर्त पर सूत्र ने कहा कि राष्ट्रीय डोपिंग रोधी एजेंसी (नाडा) ने उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करते हुए अपना फैसला सुनाया है. नाडा के नियम के अनुसार अगर खिलाड़ी दो बार डोपिंग में पकड़ा जाता है, तो उस पर आठ साल से लेकर अाजीवन प्रतिबंध भी लगाया जा सकता है.

खिलाड़ी के राष्ट्रीय और अंतराष्ट्रीय पदक तत्काल प्रभाव से जब्त कर लिए जाते हैं. प्रियंका को इससे पहले 2011 में हुए डोप परीक्षण में पांच अन्य एथलीटों के साथ एनाबोलिक स्टेरायड के लिए पॉजिटिव पाया गया था और उन पर दो साल का निलंबन लगा था.

इंचियोन एशियाई खेल 2014 में चार गुणा 400 मीटर महिला रिले में स्वर्ण पदक जीतने वाली प्रियंका को पिछले साल राष्ट्रीय अंतरराज्यीय एथलेटिक्स प्रतियोगिता के दौरान प्रतिबंधित पदार्थ के लिए पॉजिटिव पाया गया था.

The post डोप टेस्ट में फंसी स्वर्ण पदक विजेता मुजफ्फरनगर की प्रियंका पंवार, मिली ये सजा appeared first on .

Source | asbtoday

%d bloggers like this: