मंदिरों में उमड़े भोले भक्त, गूंजा बम- बम भोले | livehindustan – Insta India

मंदिरों में उमड़े भोले भक्त, गूंजा बम- बम भोले | livehindustan

Browse By

मुरादाबाद। भोर के पहली किरण के साथ गूंजे बम-बम भोले के जयघोष ने शहर भी शिवभक्ति रूपी रसधार से सराबोर कर दिया। देर रात शिवालयों में शुरू हुआ भगवान शिव का जलाभिषेक सायं तक चलता रहा। पहले कांवड़ियों ने जलाभिषेक आरंभ किया। तड़के से ही श्रद्धालुओं ने भी कतारबद्ध होकर जलाभिषेक किया। दिनभर व्रत रखा और शाम भगवान को भोग अर्पित कर व्रत को विश्राम दिया।

चौरासी घंटा मंदिर

रात दो बजे ही शुरू हो गया जलाभिषेक

मुरादाबाद। मंदिर में रात तक बड़ी संख्या में कांवड़िये पहुंच गए। रात दो बजे से ही जलाभिषेक आरंभ कर दिया गया। भीड़ के कारण बैकुंठी कांवड़ लाने वाले कांवड़ियों ने अपनी कांवड़ें मंदिर के बाहर ही रोक दी और केवल जल के साथ ही प्रवेश किया। खड़ी कांवड़ लाने वालों ने सीधे शिवालय में प्रवेश किया। इस दौरान बाइकों एवं अन्य वाहनों से कांवड़ लाने वाले भी जलाभिषेक करते रहे। तड़के से ही मंदिर पर श्रद्धालुओं की भीड़ जुटी गई। महिलाओं और पुरुषों को अलग अलग द्वार से प्रवेश कराया गया। सायं तक जलाभिषेक करने श्रद्धालु और कांवड़ियों पहुंचते रहे। यहां अगवानपुर, भोजपुर, रामपुर, कुंदरकी आदि क्षेत्रों से आए कावंड़ियों ने भी जलाभिषेक किया। सायं मंदिर को मनमोहक रूप से सजाया गया। इस समय भी श्रद्धालुओं ने भगवान को भोग अर्पित कर व्रत पूर्ण किया।

झारखंडी मंदिर

दिनभर रही कांवड़ियों और श्रद्धालुओं की भीड़

मुरादाबाद। नागफनी क्षेत्र में स्थित बाबा झारखंडी के मंदिर में भी रात दो बजे से ही जलाभिषेक आरंभ हो गया। कांवड़ियों की बड़ी संख्या के कारण यहां भी खड़ी और बैकुंठी कांवड़ लाने वालों के अलग अलग प्रवेश कराया गया। टैंक के रूप में लाई गई कांवड़ को मंदिर के द्वार पर खड़ा कर श्रद्धालुओं को जलाभिषेक करने के लिए गंगा जल उपलब्ध कराया गया। श्रद्धालुओं की भी सायं तक उमड़ी रही। श्रद्धालुओं ने जलाभिषेक के साथ धुनी के भी दर्शन किये और तिलक लगाया।

मनोकामनाश्री हनुमान मंदिर

बर्फ पर शिव की झांकी ने मोहामन

रेलवे कालोनी स्थित मनोकामना श्री हनुमान मंदिर में कांवड़ियों के ठहरने की भी व्यवस्था रही। मगर रात में ही भीड़ बढ़ती देख रात बारह बजे के बाद जलाभिषेक शुरू करा दिया गया। दिन में भी श्रद्धालुओं की भीड़ रही। मंदिर के बाहर बर्फ के ऊपर खड़े भगवान शिव की झांकी आकर्षण का केंद्र रही। सायं महिला मंडल ने कीर्तन कर मंदिर शिवमय कर दिया।

एकता कालोनी स्थित शिव मंदिर

सुबह तक लगी रही कांवड़ियों की लाइन

लाइनपार मंड़ी समिति के पीछे स्थित एकता कालोनी के शिव मंदिर में भी कांवड़ियों की भीड़ रही। उन्होंने बम-बम भोले के जयघोष के साथ रात बारह बजते ही जलाभिषेक आरंभ कर दिया। मगर कांवड़ियों की लाइन सुबह तक लगी रही। उधर श्रद्धालुओं ने भी भगवान शिव का जलाभिषेक कर मन्नतें मांगीं। सायं क्षेत्रवासियों ने मंदिर को मनमोहक रूप से सजाया और भजन कीर्तन किया।

महाकालेश्वर धाम मंदिर

दिनभर जल, रातभर हुआ रुद्राभिषेक

नया मुरादाबाद स्थित महाकालेश्वर धाम मंदिर में प्रमुख महंत गणेशानंद के सानिध्य में तड़के से ही जल एवं रुद्राभिषेक आरंभ हो गया। पाकबड़ा, नया मुरादाबाद और इसके पास बनी नई कालोनियों के श्रद्धालुओं ने भगवान शिव का जलाभिषेक किया। यहां सायं और रात्रि में भी रुद्राभिषेक का आयोजन किया गया। महेश अग्रवाल, मेयर विनोद अग्रवाल, प्रिया अग्रवाल सहित उनके परिजनों में भी रुद्राभिषेक में भाग लिया।

महानगर के अन्य मंदिरों में भी हुआ जलाभिषेक

महिला मंदिर, श्री शिव मंदिर सागर सराय में शिव पुराण का पाठ किया गया। महिलाओं ने भजनों से सराबोर कर दिया। संयोजिका वेदबाला गुप्ता रहीं। बेबीख् डा. प्रमोद गुप्ता, शशि मलिक, सुमन धवन,विमला, अनीता आदि का सहयोग रहा।

श्री बालाजी जन सेवक समिति ने बारादरी स्थित बालाजी दरबार में भगवान शिव का श्रृगार किया। महंत पंकज बाबू सहित रीतिका, दुष्यंत, विकास आदि का सहयोग रहा। बनवटा गंज स्थित शिव मंदिर में पुरोहित अनुज भारद्वाज ने जलाभिषेक कराया। अतुल जौहरी, गौरव गुप्ता,वरुण गुप्ता आदि का सहयोग रहा।

लाइनपार स्थित माता मंदिर, खुशहालपुर रोड स्थित ऋण मुक्तेश्वर मंदिर, पीएसी रोड खुशहालपुर स्थित छोटा शिव मंदिर, किसरौल स्थित गंगा मंदिर, गुजराती स्थित स्थित सीताराम मंदिर, लोकोशेड स्थित शिव मंदिर, रामगंगा विहार के शिव शक्ति मंदिर, मनोकामना मंदिर कटघर, काली माता का मंदिर हरथला और शिव मंदिर बंगला गांव, शिव मंदिर चिड़िया टोला सहित महानगर के अनेक शिवालयों में भी भी तड़के से ही जलाभिषेक आरंभ हो गया। यहां भी कांवड़ियों के साथ श्रद्धालु भी दिनभर पहुंचते रहे।

मंदिर के रास्ते पर नहीं चलने दिये वाहन

भीड़ के कारण चौरासी घंटा मंदिर की ओर जाने वाले वाहनों को थाना नागफनी और दीवान के बाजार के चौराहे से ही रोक दिया गया। केवल कांवड़ियों और पैदल ही लोगों को जाने दिया। मंदिर के पास बेल, भांग, धतूरे आदि की दुकानें लगने से मेले का माहौल रहा। हालांकि कुछ वाहनों की गुजरने की अनुमति देने से क्षेत्रवासियों में रोष रहा।

नागरिक सुरक्षा कोर भी जुटी रही व्यवस्था में

मुरादाबाद। नागरिक सुरक्षा कोर चौरासी घंटा के वार्डन व्यवस्था में मुस्तैद रहे। उन्होंने कांवड़ियों सहित श्रद्धालुओं और यातायात व्यवस्था में भी सहयोग किया। नेतृत्व पोस्ट वार्डन आशीष त्रिवेदी ने किया। संजय गुप्ता,अनिल रस्तोगी, अशोक गुप्ता, गुलाम नवी, वसीम, सुभाष जैन, केके गुप्ता, नवनीत जैन शामिल रहे।

Source | livehindustan