इस वजह से कल भी मनाई जाएगी मकर संक्रांति | livehindustan – Insta India

इस वजह से कल भी मनाई जाएगी मकर संक्रांति | livehindustan

Browse By

मकर संक्रांति का पर्व इस बार 14 जनवरी यानी रविवार को नहीं बल्कि 15 जनवरी को मनाया जाएगा। ज्योतिर्विद पं दिवाकर त्रिपाठी पूर्वांचली का कहना कि सूर्य की बृहस्पति की राशि धनु से शनि की राशि मकर में प्रवेश होने पर खरमास समाप्त हो जाता है । इस वर्ष सूर्य की मकर राशि की संक्रान्ति 14 जनवरी 2018 दिन रविवार को रात में 07:35 बजे से होगी। शास्त्रानुसार सूर्यास्त के बाद किसी भी समय मकर संक्रान्ति होने पर ,संक्रान्ति का पुण्य काल दूसरे दिन सूर्योदय से मध्यान्ह काल तक रहता है । इस प्रकार इस वर्ष मकर संक्रांति अथवा खिचड़ी का प्रसिद्ध पर्व 15 जनवरी 2018 दिन सोमवार को मनाई जाएगी। उन्होंने बताया कि 15 जनवरी 2018 दिन सोमवार को खिचड़ी का महान पर्व अपनी-अपनी परम्पराओं के अनुसार मनाया जाएगा। गंगोत्री से लेकर गंगा सागर तक सर्वत्र गंगा स्नान अन्यत्र नदी ,तालाब, सरोवर में स्नान करने एवं विधिवत दान आदि करने का पुण्य फलदायक विधान है।

चार फरवरी तक नहीं होंगे विवाह

14 दिसम्बर 2017 दिन गुरुवार को दिन में 9:10 बजे धन ,वैभव ,कला विवाह एवं प्रेम कारक ग्रह शुक्र के पूर्व दिशा में अस्त होंने के कारण विवाह आदि शुभ कार्यों के लिए शुभ मुहुर्त्त का अभाव हो जाएगा तथा सहालग भी शुक्रोदय तक रुके रहेंगे। इसके साथ ही मूल नक्षत्र एवं धनु राशि का सूर्य संक्रान्ति भी 16 दिसंबर दिन शनिवार को दिन में 11:35 बजे से ही हो गयी थी। ज्योतिर्विद पं दिवाकर त्रिपाठी पूर्वांचली ने बताया कि सूर्य की बृहस्पति की राशियों धनु एवं मीन राशि की संक्रान्ति होने पर खरमास होता है। खरमास में विवाह आदि शुभ कार्यो के मुहुर्त्त बन्द हो जाएंगे। उन्होंने बताया कि शुक्र के अस्त होने के कारण विवाह आदि के लिए शुभ मुहूर्त का अभाव 4 फरवरी तक बना रहेगा । 3 फरवरी की रात अर्थात 4 फरवरी की भोर में 5:30 बजे विवाह कारक ग्रह शुक्र के पश्चिम दिशा में उदित होने से शुभ मुहूर्त मिलने प्रारम्भ हो जाएंगे।

Source | livehindustan