12 हजार बीघा जमीन के विवाद को सुलझाने बैठे यूपी-हरियाणा के अफसर | livehindustan – Insta India

12 हजार बीघा जमीन के विवाद को सुलझाने बैठे यूपी-हरियाणा के अफसर | livehindustan

Browse By

कई वर्षों से चला आ रहा यूपी-हरियाणा सीमा पर स्थित जमीन का विवाद जल्द निपटेगा। शुक्रवार को दोनों राज्यों के अफसर विवाद के निपटारे के लिए बैठे। ग्रेटर नोएडा में हुई बैठक में पैमाइश के लिए कमेटी बनाए जाने का फैसला लिया गया। जिसमें यूपी-हरियाणा के अफसर शामिल होंगे। वहीं नए सिरे से पैमाइश कराकर पिलर लगवाए जाएंगे।

टप्पल थाना क्षेत्र में यूपी-हरियाणा सीमा विवाद पिछले दिनों से गहराया हुआ है। पिछले दिनों डीएम ह्षिकेश भास्कर यशोद से शिकायत करने पहुंचे किसानों ने कहा था कि यूपी सीमा में अपनी जमीन पर भी खेती करना अब सुरक्षित नहीं रहा है। बीते दिनों पीएसी और पुलिस के सामने पटवारी, लेखपाल और किसानों के साथ मारपीट भी की गई थी। किसानों ने हरियाणा सीमा में आने वाली यूपी की जमीन पर होने वाली फसल को कुर्क रखने की मांग रखी थी। जिसके बाद प्रशासन द्वारा किसानों को आश्वासन दिया गया था कि जल्द ही हरियाणा के अफसरों के साथ बैठकर वर्षों से चली आ रही समस्या का समाधान किया जाएगा।

शुक्रवार को ग्रेटर नोएडा में बैठक आयोजित की गई। जिसमें डीएम ह्षिकेश भास्कर यशोद, एसएसपी राजेश पांडेय, एडीएम प्रशासन आरएन शर्मा, एसडीएम खैर जोगेन्द्र सिंह, उपायुक्त पलवल, एसडीएम पलवल, एसडीएम होडल सहित अन्य पुलिस-प्रशासनिक अधिकारी शामिल हुए। बैठक में दोनों राज्यों के अफसरों की सहमति से तय किया गया कि यूपी-हरियाणा अफसरों की कमेटी बनाई जाएगी। यह कमेटी संबंधित जमीन की नए सिरे से पैमाइश कराएगी। जिसके बाद सर्वे ऑफ इंडिया के नियमानुसार पिलर लगवाए जाने की कार्यवाही की जाएगी।

0-यह है विवाद

टप्पल थानाक्षेत्र में यूपी और हरियाणा की सीमा लगती है। सीमा पर यूपी के फतेहपुर, गिरधरपुुर, धारगढ़ी और मालव गांव लगते हैं। वहीं हरियाणा सीमा के काशीपुर, फाटनगर, अतवां, माहौली लगते हैं। यहां यमुुना का बहाव के दोनों तरफ जमीन होने के चलते दोनों राज्यों के किसानों को यहां करीब 12 हजार बीघा जमीन पर दावा है।

हरियाणा के अधिकारियों के साथ संयुक्त बैठक की गई थी। जिसमें यूपी-हरियाणा सीमा पर स्थित जमीन को लेकर चल रहे विवाद के निस्तारण पर चर्चा की गई। बैठक में एक संयुक्त कमेटी बनाने का फैसला लिया गया है। वहीं नए सिरे से पैमाइश व पिलर लगवाए जाने की कार्यवाही की जाएगी।

-आरएन शर्मा, एडीएम प्रशासन

Source | livehindustan