योगी सरकार के शीतलहरी से बचाव के सारे दावे खोखले, वृद्ध रिक्शा चालक की आसरा न मिल पाने से मौत | spashtawaz – Insta India

योगी सरकार के शीतलहरी से बचाव के सारे दावे खोखले, वृद्ध रिक्शा चालक की आसरा न मिल पाने से मौत | spashtawaz

Browse By

42,525 स्थानों पर जलाये गये अलाव
 3,97,612 निराश्रित, असहायों के मध्य कम्बल वितरण : प्रमुख सचिव, राजस्व

लखनऊ। राजधानी में बुधवार को सरकार व प्रशासन के सारे दावे तब खोखले हो गये। जब एपीसेन रोड पर एक वृद्ध रिक्शा चालक की कोई आसरा न मिल पाने के कारण मौत हो गई। सरकार ने रैन बसेरो पर बहुत से दावे किये। मंजर तो देखने वाला तब था जब मौके पर कोई सरकार व प्रशासन का जिम्मेदार नहीं पहुंचा। पहुंचे तो चंद पुलिस कर्मी जिन्होंने भी केवल ताकने और पल्ला झाड़ने के सिवा कुछ नहीं किया।

प्रदेश में जारी शीतलहरी से बचाव के लिए शासनादेश 22 दिसम्बर को समस्त जनपदों को निर्देश दिये गये थे कि गरीब, निराश्रित एवं असहाय व्यक्तियों को विशेष अभियान चलाकर कम्बल वितरण कराया जाये।
संचालित रैन बसेरों व अलाव जलाने की व्यवस्था का सत्यापन भी किया जाये। जिसके क्रम में द्वितीय चरण में प्रदेश के समस्त जनपदों में 1 व 2 जनवरी को विशेष अभियान चला कर 68279 कम्बल वितरित किया गया। 925 स्थानों पर शेल्टर होम्स व 15,471 स्थानों पर जलाये गये अलाव की व्यवस्था का भी सत्यापन किया गया। यह जानकारी प्रमुख सचिव, राजस्व डाॅ. रजनीश दुबे ने आज यहां दी। उन्होंने बताया कि प्रदेश के समस्त जनपदों में अब तक कुल 925 रैनबसेरों का संचालन किया जा रहा है तथा 42,525 स्थानों पर अलाव जलाये गये हैं। उन्होंने बताया कि गरीब, असहाय एवं निराश्रित व्यक्तियों को अब तक कुल 3,97,612 कम्बलों का वितरण किया जा चुका है।

 

[youtube https://www.youtube.com/watch?v=aSlBDm1GNUM?feature=oembed&w=800&h=450]

The post योगी सरकार के शीतलहरी से बचाव के सारे दावे खोखले, वृद्ध रिक्शा चालक की आसरा न मिल पाने से मौत appeared first on SpashtAwaz.

Source | spashtawaz