हत्या के आरोपी को आजीवन कारावास | livehindustan – Insta India

हत्या के आरोपी को आजीवन कारावास | livehindustan

Browse By

नेवढ़िया थाना क्षेत्र के सैदूपुर में प्रधानी के चुनाव को लेकर दो पक्षों में मारपीट हो गयी थी। जिसमें एक व्यक्ति की हत्या भी हुई थी। इस मामले में अपर सत्र न्यायाधीश चतुर्थ ने एक आरोपी को आजीवन कारावास व 5000 जुर्माने की सजा सुनाई।

अधिवक्ता बाले प्रसाद यादव समेत दो आरोपियों को साक्ष्य के अभाव में कोर्ट ने दोषमुक्त कर दिया। क्रास केस में आठ आरोपियों को एक वर्ष कारावास व जुर्माने की सजा सुनाई गयी। सैदूपुर निवासी श्रीनाथ जो 1995 में पंचायत चुनाव में बीडीसी मेंबर का प्रत्याशी था। उसके खिलाफ विनोद गुप्त चुनाव लड़ रहे थे। हरिहर प्रधान पद के प्रत्याशी थे। उनके खिलाफ अधिवक्ता बाले यादव प्रत्याशी थे।

वादी श्रीनथा का आरोप है कि 12 अप्रैल 1995 को मतदान के बाद करीब 6:30 बजे शाम अपने चाचा शोभनाथ पटेल, प्यारेलाल, बांकेलाल हरिहर के साथ घर जा रहे थे। रास्ते में बाले यादव, जटा शंकर दुबे, गुलाब यादव व अन्य आरोपियों ने घेर लिया। बाले यादव के ललकारने पर जटाशंकर ने भाला से चाचा शोभनाथ को मारा। अन्य आरोपियों ने ईंट पत्थर चलाए। वादी व अन्य को चोटें आई। सदर हास्पिटल पहुंचने पर चाचा शोभनाथ की मृत्यु हो गई।

अधिवक्ता बाले यादव ने धारा 156(3) के तहत श्रीनाथ समेत 10 आरोपियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराया कि 12 अप्रैल 1995 को शाम 6:30 बजे चुनाव के बाद आरोपी लाठी, बल्लम ,गड़ासा ,ईंट लेकर र्निवाचन स्थल सैदूपुर पाठशाला पहुंच गए मतपेटिका लूटने की नियत से स्कूल का दरवाजा तोड़कर आए। गालियां दिए, मारे पीटे,ईट पत्थर चलाएं व जान से मारने की धमकी दिए।

वादी प्रधानी का चुनाव जीत गया। पुलिस ने विवेचना कर चार्जशीट दाखिल की। एडीजीसी प्रकाश मिश्र व प्रशांत पंकज श्रीवास्तव ने मूल केस में एवं एडीजीसी अली अरशद व ज्ञानेन्द्र सिंह ने क्रास केस में गवाहों को परीक्षित कराया। कोर्ट ने दोनों पक्षों की बहस सुनने के बाद फैसला सुनाया।